Breaking
सासाराम में बंद मकान में लाखों की चोरी , घर बंद कर गृह स्वामी गए थे विवाह समारोह मेंपानी की समस्या को लेकर जिलाधिकारी योगेन्द्र सिंह ने पी एच ई डी विभाग का किया औचक निरीक्षण अनुपस्थिति कर्मी का वेतन पर रोकरोटरी लीडरशिप इंस्टिट्यूट का दो दिवसीय कार्य शाला का उद्घाटनजिला निर्वाचन पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने संयुक्त रूप से की मीडिया ब्रीफिंगपूर्वी चंपारण के हराज गांव के युवक की शिवहर के कुशहर दुर्गा मंदिर में हो गई है मृत्युPurva Express Derail: बिहार के यात्रियों ने बताया-दो भागों में बंट गई ट्रेन, भयावह था मंहावड़ा दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस का 12 डिब्बे पटरी से उतरे, बीस घायलअपराधियों ने जदयू प्रदेश सचिव के भाई के घर चार लाख की डकैती , नालंदा पुलिस जाँच में जुटीपतेज प्रताप यादव ने रीगा में सतु घोलते हुए कहा सतु की तरह बीजेपी और जदयू को घोल कर पी जायेंगेशिवहर के पुरनहिया में तेज प्रताप यादव ने कहा , शिवहर का राजद प्रत्याशी भाजपा का एजेंट है , लालू राबड़ी मोर्चा का सिपाही और जनता से जुड़े हैं अंगेश , जिनको जिताने के लिए शिवहर के लोगों से कर रहे हैं जनसंपर्क

छपरा के जदयू के पूर्व एमएलए के दाल फैक्ट्री में नक्सलियों ने लगाई आग , करीब 10 करोड की संपत्ति जल कर राख

http://www.Youtube.com/todaybiharnews

 

छपरा । जिले के परसा थाना क्षेत्र के मिर्जापुर स्थित दाल मिल में नक्सलियों ने रविवार की रात करीब 1:30 बजे आग लगा दी, जिससे करीब 10 करोड़ रुपए की संपत्ति जलकर राख हो गयी। इस मामले में दाल मिल के गार्ड तथा परसा थाना क्षेत्र के फतेहपुर गांव निवासी विजय सिंह ने परसा थाने में लिखित प्राथमिकी दर्ज कराई है। बताया जाता है कि मिर्जापुर में स्थित दाल मिल अमनौर के पूर्व विधायक तथा जदयू नेता कृष्ण कुमार उर्फ मंटू सिंह की है।इस घटना को नक्सलियों के द्वारा अंजाम दिए जाने की बात कही जा रही है । परसा थानाध्यक्ष कुंदन कुमार सिंह ने बताया कि इस मामले में जांच की जा रही है । उन्होंने बताया कि गार्ड ने लिखित शिकायत में कहा है कि करीब एक दर्जन की संख्या में आए नक्सलियों ने उसको बंधक बना लिया और उसके बाद दाल मिल में पेट्रोल छिङक कर आग लगा दी, जिसके बाद नक्सलियों के द्वारा लाल सलाम, लाल सलाम के नारे लगाये गये । सभी नक्सली पुलिस की वर्दी में थेनक्सलियों ने जाते समय गार्ड से कहा कि तुम्हारे मालिक के द्वारा लेवी नहीं पहुंचाया जा रहा है, जिसके कारण दाल मिल में आग लगायी गयी है । नक्सलियों ने गार्ड को चेताया कि अपने मालिक को बता देना कि लेवी नहीं पहुंचाने का क्या अंजाम होता है । गार्ड ने बताया कि मुख्य गेट बंद था । चहार दीवारी फांद कर एक नक्सली प्रवेश किया और अपने को पुलिस बता कर गार्ड रूम खुलवाया । गेट खोल कर बाहर निकलते ही उसने हथियार का भय दिखाकर कब्जे में ले लिया तथा दाल मिल के बाहर बांसवारी में ले जाकर हाथ, पैर, मुंह गमछा से बांध दिया, इसके बाद घटना को अंजाम दिया गया । इस दौरान नक्सलियों ने उसका मोबाइल भी ले लिया । नक्सलियों के जाने के बाद गार्ड ने किसी तरह अपने को बंधन से मुक्त किया और बगल के घर में जाकर मोबाइल मांग कर मिल मालिक को घटना की सूचना दी, जिसके बाद सुबह पांच बजे परसा थाना की पुलिस को मिल मालिक व पूर्व विधायक ने घटना की जानकारी दी । साथ ही पुलिस अधीक्षक को भी सूचना दी । इसके बाद परसा, भेल्दी, मकेर समेत कई थाना की पुलिस पहुंची । फायर ब्रिगेड की टीम भी पहुंची और सुबह तक आग बुझाने का कार्य चल रहा था । इसकी सूचना पाकर मौके पर वरीय पुलिस अधिकारी भी पहुंचे और जांच पङताल की । फिलहाल इसकी जांच चल रही है । मिल मालिक व पूर्व विधायक ने भी इस घटना में नक्सलियों के हाथ होने की बात कही है और पुलिस प्रशासन से अपनी सुरक्षा बढाने की मांग की है ।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons